Fandom

Hindi Literature

आना / केदारनाथ सिंह

१२,२६१pages on
this wiki
Add New Page
Talk0 Share

Ad blocker interference detected!


Wikia is a free-to-use site that makes money from advertising. We have a modified experience for viewers using ad blockers

Wikia is not accessible if you’ve made further modifications. Remove the custom ad blocker rule(s) and the page will load as expected.

http://www.kavitakosh.orgKkmsgchng.png
































रचनाकार: केदारनाथ सिंह

~*~*~*~*~*~*~*~*~*~*~*~*~*~*~*~


आना

जब समय मिले

जब समय न मिले

तब भी आना


आना

जैसे हाथों में

आता है जांगर

जैसे धमनियों में

आता है रक्त

जैसे चूल्हों में

धीरे-धीरे आती है आंच

आना


आना जैसे बारिश के बाद

बबूल में आ जाते हैं

नए-नए कांटे


दिनों को

चीरते-फाड़ते

और वादों की धज्जियां उड़ाते हुए

आना


आना जैसे मंगल के बाद

चला आता है बुध

आना


'अकाल में सारस' नामक कविता-संग्रह से

Also on Fandom

Random Wiki