Fandom

Hindi Literature

इंतज़ार की रात / इब्ने इंशा

१२,२६१pages on
this wiki
Add New Page
Talk0 Share

Ad blocker interference detected!


Wikia is a free-to-use site that makes money from advertising. We have a modified experience for viewers using ad blockers

Wikia is not accessible if you’ve made further modifications. Remove the custom ad blocker rule(s) and the page will load as expected.

http://www.kavitakosh.orgKkmsgchng.png
































CHANDER


उमड़ते आते हैं शाम के साये

दम-ब-दम बढ़ रही है तारीकी

एक दुनिया उदास है लेकिन

कुछ से कुछ सोचकर दिले-वहशी

मुस्कराने लगा है- जाने क्यों ?

वो चला कारवाँ सितारों का

झूमता नाचता सूए-मंज़िल

वो उफ़क़ की जबीं दमक उट्ठी

वो फ़ज़ा मुस्कराई, लेकिन दिल

डूबता जा रहा है - जाने क्यों ?


उफ़क़=क्षितिज; जबीं=मस्तक


(रचनाकाल : 1945)

Also on Fandom

Random Wiki