Fandom

Hindi Literature

डायरी : मार्च'78 (रावण के माथे) / अरुण कमल

१२,२६१pages on
this wiki
Add New Page
Talk0 Share

Ad blocker interference detected!


Wikia is a free-to-use site that makes money from advertising. We have a modified experience for viewers using ad blockers

Wikia is not accessible if you’ve made further modifications. Remove the custom ad blocker rule(s) and the page will load as expected.

http://www.kavitakosh.orgKkmsgchng.png
































CHANDER


एक माथा दूसरे से

दूसरा तीसरे से

तीसरा चौथे से...सातवें से...दसवें से

भिड़ा-टकराया,

हर माथा अलग-अलग बोला

अलग-अलग मुँह फेर ताका

एक-दूसरे को डाँटा

दिशा-ज्ञान बाँटा

ज़रा भी चली हवा कि माथा

माथे से टकराया

लड़ा-झगड़ा

एक ही धड़ पर आँखें मटकाता ।


लेकिन अन्दर-अन्दर रावण के ये

दस-दस माथे

रहे सोचते एक ही बात

एक ढंग से एक ही बात

रावण के ये दस-दस माथे ।

Also on Fandom

Random Wiki