Fandom

Hindi Literature

तिनका-तिनका / रामेश्वर काम्बोज 'हिमांशु'

१२,२६१pages on
this wiki
Add New Page
Talk0 Share

Ad blocker interference detected!


Wikia is a free-to-use site that makes money from advertising. We have a modified experience for viewers using ad blockers

Wikia is not accessible if you’ve made further modifications. Remove the custom ad blocker rule(s) and the page will load as expected.

http://www.kavitakosh.orgKkmsgchng.png
































CHANDER

तिनका ­तिनका लाकर चिड़िया

रचती है आवास नया ।

इसी तरह से रच जाता है

सर्जन का आकाश नया ।

मानव और दानव में यूँ तो

भेद नजर नहीं आएगा ।

एक पोंछता बहते आँसू

जीभर एक रुलाएगा ।

रचने से ही आ पाता है

जीवन में विश्वास नया ।

कुछ तो इस धरती पर केवल

खून बहाने आते हैं ।

आग बिछाते हैं राहों पर

फिर खुद भी जल जाते हैं ।

जो होते खुद मिटने वाले

वे रचते इतिहास नया ।

मंत्र नाश का पढ़ा करें कुछ

द्वार -द्वार पर जा करके ।

फूल खिलाने वाले रहते

घर­ घर फूल खिला करके ।

रहता सदा इन्हीं के दम पर

सुरभि सरोवर पास नया ।

Also on Fandom

Random Wiki