Fandom

Hindi Literature

तू दोस्त किसी का भी सितमगर न हुआ था / ग़ालिब

१२,२६१pages on
this wiki
Add New Page
Talk0 Share

Ad blocker interference detected!


Wikia is a free-to-use site that makes money from advertising. We have a modified experience for viewers using ad blockers

Wikia is not accessible if you’ve made further modifications. Remove the custom ad blocker rule(s) and the page will load as expected.

http://www.kavitakosh.orgKkmsgchng.png
































CHANDER

तू दोस्त किसी का भी सितमगर न हुआ था
औरों पे है वो ज़ुल्म कि मुझ पर न हुआ था

छोड़ा मह-ए-नख़्शब की तरह दस्त-ए-क़ज़ा ने
ख़ुर्शीद हनोज़ उस के बराबर न हुआ था

तौफ़ीक़ ब अन्दाज़-ए-हिम्मत है अज़ल से
आँखों में है वो क़तरा कि गौहर न हुआ था

जब तक की न देखा था क़द-ए-यार का आलम
मैं मोतक़िद-ए-फ़ितना-ए-महशर न हुआ था

मैं सादा दिल आज़ुर्दगि-ए-यार से ख़ुश हूँ
यानी सबक़-ए-शौक़ मुकर्रर न हुआ था

दरिया-ए-मआसी तुनुक अभी से हुआ ख़ुश्क
मेरा सर-ए-दामन भी अभी तर न हुआ था

जारी थी असद दाग़-ए-जिगर से मेरे तहसील
आतशक़दा जागीर-ए-समन्दर न हुआ था

Also on Fandom

Random Wiki