Fandom

Hindi Literature

दिन बसन्त के / ठाकुरप्रसाद सिंह

१२,२६१pages on
this wiki
Add New Page
Talk0 Share

Ad blocker interference detected!


Wikia is a free-to-use site that makes money from advertising. We have a modified experience for viewers using ad blockers

Wikia is not accessible if you’ve made further modifications. Remove the custom ad blocker rule(s) and the page will load as expected.

http://www.kavitakosh.orgKkmsgchng.png
































CHANDER

दिन बसन्त के

राजा-रानी-से तुम दिन बसन्त के

आए हो हिम के दिन बीतते

दिन बसन्त के


पात पुराने पीले झरते हैं झर-झर कर

नई कोंपलों ने शृंगार किया है जी भर

फूल चन्द्रमा का झुक आया है धरती पर

अभी-अभी देखा मैंने वन को हर्ष भर


कलियाँ लेते फलते, फूलते

झुक-झुककर लहरों पर झूमते

आए हो हिम के दिन बीतते

दिन बसन्त के

Also on Fandom

Random Wiki