Fandom

Hindi Literature

पंख / विष्णु खरे

१२,२६१pages on
this wiki
Add New Page
Talk0 Share

Ad blocker interference detected!


Wikia is a free-to-use site that makes money from advertising. We have a modified experience for viewers using ad blockers

Wikia is not accessible if you’ve made further modifications. Remove the custom ad blocker rule(s) and the page will load as expected.

http://www.kavitakosh.orgKkmsgchng.png
































रचनाकारः विष्णु खरे

~*~*~*~*~*~*~*~*~*~*~*~*~*~*~*~*~


मरा हुआ ताज़ा कबूतर

कोलतार की सड़क पर.

जैसे वंदनीय सर्प की पीठ पर

अक्षत रखा हो. उसकी रक्ताभ आँखें

अभी भी आते-जाते पहियों को देखती हैं.


एक जंगली कबूतर की

क्या कीमत हो सकती है ? शाम तक

जहाँ लाश थी वहाँ कुछ पंख हैं

जिन्हें दुविधा में पड़ा हुआ

गाँव का कुत्ता दूर से सूँघता है.

Also on Fandom

Random Wiki