Fandom

Hindi Literature

मान के हर प्रश्न पर / यश मालवीय

१२,२६१pages on
this wiki
Add New Page
Talk0 Share

Ad blocker interference detected!


Wikia is a free-to-use site that makes money from advertising. We have a modified experience for viewers using ad blockers

Wikia is not accessible if you’ve made further modifications. Remove the custom ad blocker rule(s) and the page will load as expected.

http://www.kavitakosh.orgKkmsgchng.png
































CHANDER

मन की ऋतु बदली
तुम आए !
रात हुई उजली
तुम आए !

ओस कणों से लगे बीतने
घंटे आधे-पौने
बाँसों लगे उछलने फिर से
प्राणों के मृग-छौने
फूल हुए-तितली
तुम आए !

लगी दौड़ने तन पर जैसे
कोई ढीठ गिलहरी
दिये जले रोशनी नहाई
पुलकी सूनी देहरी
लिए दही-मछली
तुम आए!

आँगन की अल्पना सरीखे
गीत सजे उपवन में
नंगे पाँव टहलने निकले
दो सपने मधुवन में
हवा करे चुगली
तुम आए !

Also on Fandom

Random Wiki