Fandom

Hindi Literature

मुझे आस है / रामेश्वर काम्बोज 'हिमांशु'

१२,२६१pages on
this wiki
Add New Page
Talk0 Share

Ad blocker interference detected!


Wikia is a free-to-use site that makes money from advertising. We have a modified experience for viewers using ad blockers

Wikia is not accessible if you’ve made further modifications. Remove the custom ad blocker rule(s) and the page will load as expected.

http://www.kavitakosh.orgKkmsgchng.png
































CHANDER

मुझे आस है

मिट जाएगा मन में घिरा

घोर अँधियारा।

किरण भोर की

आँगन में आ

फैला ही देगी उजियारा।

होंठों पर उतरेगी चाँदनी

बनकर मधुर मधुर मुस्कान।

आँखों में होगी शीतलता

और कण्ठ में मीठा गान ।

जितने भी बादल हैं दुख के

सब के सब छँट जाएँगे ।

उमंग भरा होगा हर मन

सुख सब में बँट जाएँगे।

Also on Fandom

Random Wiki