Fandom

Hindi Literature

मैं खुश हूँ / रामेश्वर काम्बोज 'हिमांशु'

१२,२६१pages on
this wiki
Add New Page
Talk0 Share

Ad blocker interference detected!


Wikia is a free-to-use site that makes money from advertising. We have a modified experience for viewers using ad blockers

Wikia is not accessible if you’ve made further modifications. Remove the custom ad blocker rule(s) and the page will load as expected.

http://www.kavitakosh.orgKkmsgchng.png
































CHANDER

मैं बहुत खुश हूँ

मेरे मौला; क्योंकि-

मेरे पास धन नहीं;

जिसको रखने के लिए

तिज़ौरी खरीदूँ,

रातों की नींद लुटाकर

पहरा दूँ,

जिसके लुट जाने पर

शोक मनाऊँ

आँसू बहाऊँ ।

मैं बहुत खुश हूँ

मेरे मौला; क्योंकि-

मेरे पास वह

अहंकार नहीं है,

जिसे ढोने के लिए

गाड़ी खरीदनी पड़े ।

जिस पर खड़े होकर

यह प्यार भरी दुनिया

बौनी दिखाई दे

और मैं खुद को महान्

समझने की हिमाकत कर सकूँ ।

मैं बहुत खुश हूँ

मेरे मौला; क्योंकि-

मेरे ज़ेहन में सिर्फ़

तेरा अहसास है,

जो मुझसे कहता है-

रहो इस दुनिया में

इस तरह,

जैसे कोई रहता हो दुनिया में

अजनबी की तरह ।

Also on Fandom

Random Wiki