Fandom

Hindi Literature

यह तुम थीं / नागार्जुन

१२,२६१pages on
this wiki
Add New Page
Talk0 Share

Ad blocker interference detected!


Wikia is a free-to-use site that makes money from advertising. We have a modified experience for viewers using ad blockers

Wikia is not accessible if you’ve made further modifications. Remove the custom ad blocker rule(s) and the page will load as expected.

http://www.kavitakosh.orgKkmsgchng.png
































रचनाकार: नागार्जुन

~*~*~*~*~*~*~*~*~*~*~*~*~*~*~*~


कर गई चाक

तिमिर का सीना

जोत की फाँक

यह तुम थीं


सिकुड़ गई रग-रग

झुलस गया अंग-अंग

बनाकर ठूँठ छोड़ गया पतझार

उलंग असगुन-सा खड़ा रहा कचनार

अचानक उमगी डालों की सन्धि में

छरहरी टहनी

पोर-पोर में गसे थे टूसे

यह तुम थीं


झुका रहा डालें फैलाकर

कगार पर खड़ा कोढ़ी गूलर

ऊपर उठ आई भादों की तलैया

जुड़ा गया बौने की छाल का रेशा-रेशा

यह तुम थीं !


1957 में रचित

Also on Fandom

Random Wiki