Fandom

Hindi Literature

ये किस ख़लिश ने / फ़ैज़

१२,२६१pages on
this wiki
Add New Page
Talk0 Share

Ad blocker interference detected!


Wikia is a free-to-use site that makes money from advertising. We have a modified experience for viewers using ad blockers

Wikia is not accessible if you’ve made further modifications. Remove the custom ad blocker rule(s) and the page will load as expected.

http://www.kavitakosh.orgKkmsgchng.png
































CHANDER

ये किस ख़लिश ने फिर इस दिल में आशियाना किया
फिर आज किस ने सुख़न हम से ग़ायेबाना किया

ग़म-ए-जहाँ हो, रुख़-ए-यार हो के दस्त-ए-उदू
सलूक जिस से किया हमने आशिक़ाना किया

थे ख़ाक-ए-राह भी हम लोग क़हर-ए-तूफ़ाँ भी
सहा तो क्या न सहा और किया तो क्या न किया

ख़ुशा के आज हर इक मुद्दई के लब पर है
वो राज़ जिस ने हमें राँद-ए-ज़माना किया

वो हीलागर जो वफ़ाजू भी है जफ़ाख़ू भी
किया भी "फ़ैज़" तो किस बुत से दोस्ताना किया

Also on Fandom

Random Wiki