FANDOM

१२,२६८ Pages

http://www.kavitakosh.orgKkmsgchng
































CHANDER


ये वादियाँ ये फ़ज़ाएँ बुला रही हैं तुम्हें

ख़ामोशियों की सदाएँ बुला रही हैं तुम्हें


तरस रहे हैं जवाँ फूल होंठ छूने को

मचल-मचल के हवाएँ बुला रही हैं तुम्हें


तुम्हारी जुल्फ़ों से ख़ुशबू की भीख लेने को

झुकी-झुकी-सी घटाएँ बुला रही हैं तुम्हें


हसीन चम्पई पैरों को जबसे देखा है

नदी की मस्त अदाएँ बुला रही हैं तुम्हें


मेरा कहा न सुनो, उनकी बात तो सुन लो

हर एक दिल की दुआएँ बुला रही हैं तुम्हें

Ad blocker interference detected!


Wikia is a free-to-use site that makes money from advertising. We have a modified experience for viewers using ad blockers

Wikia is not accessible if you’ve made further modifications. Remove the custom ad blocker rule(s) and the page will load as expected.